13 वर्षीय उद्योजक – तिलक मेहता

0

“तिलक मेहता” जो है देश के सबसे छोटे उद्योजक ! तिलक सिर्फ 13 साल के है और वो आठवी कक्षा में पढते है ! तिलक ने जुलाई 2018 में स्थापना की “PAPERS N PARCEL“ नाम की कुरिअर कंपनी जो हमारे देश की महानगरी में कुरियर पहुँचाती है और वो भी सबसे कम दाम में , पेपर्स अँड पार्सल काम करती है ! “same day pickup & same day delivery“  टॅगलाईन के ऊपर तिलक मेहता ने ये सब किया है ! 125 साल पुराने मुंबई के डब्बेवालो के established network के साथ मिलकर, वही डब्बेवाले जो हर रोज 2 लाख मुंबईकरो की भुख मिटाते है, और पार्सल भी पहुँचाते है ! मुंबई के गरोडीया इंटरनेशनल सेंटर ऑफ लर्निंग में तिलक हररोज सभी बच्चो की तरह स्कुल जाते है ! स्कुल छुटने के बाद वो सीधा ऑफीस जाते है, 4 से 7 बजे तक वो ऑफीस में रहते है ! उसके बाद वो अपना होमवर्क करते है ! रविवार के दिन तिलक अपने कर्मचारियो के साथ सारी जानकारी लेते है, अपनी बिजनेस की तरक्की देखते है और विकास के बारे में योजना करते है !

एकबार तिलक अपने चाचाजी के घर गये थे ! दूसरे दिन जब वो अपने घर लौटे तो उनको ध्यान आया की वो अपनी किताब वही भूल आये और परसो Exams है, फिर तिलक ने अपने पापा से बोला की वो चाचाजी से कहकर अपनी किताब कुरियर करवा ले ! तिलक के पापा ने कहा कुरियर वाला एक दिन में पार्सल पहुँचाने का 250 से 300 रु. तक लेगा ! उसमे नयी किताब आ जायेंगी ! बस तभी तिलक के दिमाग में आया की कोई ऐसी कुरियर कंपनी क्यों ना खोली जाये, जो एक दिन में और कम से कम दाम में पार्सल पहुँचा दे ! तिलक मेहता हररोज डब्बेवालो को देखता था, तो उन्होंने इस काम में डब्बेवालो की मदद लेने की सोची और आज वो 300 डब्बेवालो के साथ मिलकर हररोज 1200 पार्सल डिलिवर करवाते है !

तिलक मेहता की इस कल्पना को वास्तविकता का रूप देने में उनकी मदत की उनके चाचा घनश्याम पारेख ने ! घनश्याम पारेख जो “PAPERS N PARCELS“ के मुख्य कार्यकारी अधिकारी है ! पारेखजी कहते है, डब्बेवालो को अपने काम के लिए मनवांना, रेल्वे में सफर करके उनके रास्ते तय करवाना, डब्बेवालो को प्रशिक्षण देने से लेकर “PAPERS N PARCELS” का ऐप तैयार करवाने से लेकर कई बडी योजनाएँ तिलक ने खुद बनाई है !

अपने पापा की कंपनी से इन्व्हेस्टमेंट लेने वाले तिलक मेहता ने आज खुद के साथ – साथ 300 डब्बेवालो की भी आमदनी बढवाई है ! तिलक मेहता ने अपनी होशियारी और अच्छी योजना से डिलिवरी चार्जेस 250 – 300 रु. से 40 -120 रु. तक घटवाये है !

इतनी कम उमर में इतना बडा काम करने वाले तिलक को “Youngest Enterprener In Logistic Sector“ के पारितोषिक से Daily Shipping Times ने नवाजा है !

 

वृषाली खडके

 

सदर सत्रासाठी आपण ही आपल्या कडील माहिती / लेख इतर शेतकऱ्यांच्या सोयीसाठी [email protected] या ई-मेल आयडी वर किंवा 8888122799 या नंबरवर पाठवू शकतात. आपण सादर केलेला लेख / माहिती आपले नाव व पत्त्यासह प्रकाशित केली जाईल.

Leave A Reply

Your email address will not be published.